दिल्ली हिंसा: सुप्रीम कोर्ट ने दुर्भाग्यपूर्णहिंसा की शर्तों पर दलीलों का मनोरंजन करने से मना क



नई दिल्ली: दिल्ली में हिंसा की घटनाओं पर बुधवार को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया लेकिन उन पर दलीलों का मनोरंजन करने से इनकार कर दिया
एक खंडपीठ जिसमें न्यायमूर्ति S K कौल और कश्मीर एम यूसुफ ने कहा कि यह नहीं होगा के दायरे का विस्तार याचिकाएं दायर में विरोध प्रदर्शन के सिलसिले में देख कर में दलीलों पर हिंसा
सॉलिसिटर ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने हिंसा से जुड़े दलीलों को सुना है इस खंडपीठ के बाद आवेदन पत्र निपटाया कह रही है कि यह उच्च न्यायालय के लिए इस मामले का ध्यान रखना है
उत्तर-पूर्व दिल्ली सांप्रदायिक हिंसा में मरने वालों की संख्या बुधवार को 20 से 13 दिन पहले हुई

comments