सेंसेक्स एसकेडी 392 वायरस के नेतृत्व में ग्लोबल सेलोफ पर अंक; निफ्टी नीचे समाप्त होता है 11700



नई दिल्ली: बुधवार को इक्विटी सूचकांक बेंचमार्क बीएसई सेंसेक्स डाइविंग लगभग साथ चौथे सीधे सत्र के लिए कूद पड़े 400 राज्याभिषेक के नेतृत्व में वैश्विक सेललोफ के रूप में अंक जारी रखा
सेंसेक्स 392 अंक या 0 मदहोश 97 फीसदी 39889 पर बंद करने के लिए जबकि व्यापक बसे 119 अंक या 1 01 प्रतिशत कम 11679
बीएसई पैक में प्रमुख फिसड्डी सन फार्मा मारुति एल एंड टी इंफोसिस रिलायंस इंडस्ट्रीज और ओएनजीसी अपने शेयरों के रूप में ज्यादा के रूप में 3 फिसलने के साथ शामिल 67 प्रतिशत 27 30 शेयरों में से 30 शेयर बीएसई सूचकांक पर लाल रंग में समाप्त
एनएसई पर सभी उप सूचकांकों के रूप में ज्यादा के रूप में 2 नीचे निफ्टी ऑटो धातु और रियल्टी के साथ घाटे को देखा 15 प्रतिशत
भूजीत वित्तीय सेवाओं में आनंद जेम्स मुख्य बाजार रणनीतिकार समाचार एजेंसी रायटर को बताया बाजार में हम वायरस के प्रभाव को समझने से पहले यह कुछ समय लगेगा कि स्वीकार कर लिया है
वैश्विक मोर्चे पर एशियाई शेयर भी अर्थव्यवस्था के लिए अपने प्रभाव के बारे में चिंतित निवेशकों को छोड़ने के अन्य देशों के लिए चीन में अपने उपरिकेंद्र से तेजी से फैल वायरस के रूप में एक पिटाई ले लिया
विश्व स्तर पर यह अभी भी एक उभरती स्थिति है जेम्स आगे उल्लेख
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की दो दिवसीय भारत यात्रा के परिणामों का भी मूल्यांकन किया जा रहा है ।
भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका पर मंगलवार को अंतिम रूप दिया रक्षा सौदों में 3 अरब डॉलर मूल्य पर हस्ताक्षर किए और तीन समझौता ज्ञापनों एक सहित ऊर्जा के क्षेत्र में प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ने कहा कि दोनों देशों का फैसला किया है लेने के लिए भारत-अमेरिका संबंधों के लिए व्यापक वैश्विक साझेदारी के स्तर
निवेशकों को दूसरे देशों में फैल गया है जो राज्याभिषेक के आर्थिक प्रभाव का आकलन के रूप में बाजार कल एक खड़ी बिकवाली के बाद स्थिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध है । वर्ष 2020 में वैश्विक आर्थिक विकास को चोट पहुंचाने के लिए किसी भी आगे की आपूर्ति के विघटन के रूप में वायरस की चिंताओं को सुर्खियों में रह सकता है जियो फाइनेंशियल सर्विसेज में अनुसंधान के विनोद नायर प्रमुख ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया
इस बीच एक शुद्ध आधार पर विदेशी संस्थागत निवेशकों को 2315 रुपये मूल्य की इक्विटी बेचा 07 करोड़ जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने रु। 1565 के शेयर खरीदे शेयर बाजारों में बुधवार को उपलब्ध आंकड़ों पर 28 करोड़ रुपये का प्रदर्शन

comments